Technology

Reliance launches JioMeet video conferencing app, know speciality | Reliance JioMeet: इस एप से 100 लोग एक साथ कर सकेंगे वीडियो कॉन्फ्रेंस



डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कोरोना महामारी के चलते लोग घरों से बाहर नहीं निल पा रहे हैं। ऐसे में वीडियो कॉलिंग का चलन पहले की अपेक्षा काफी बढ़ा है। इसी को देखते हुए रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने अपने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप जियोमीट (JioMeet) को लॉन्च कर दिया है। गूगल प्ले स्टोर (Google Play Store) और ऐपल ऐप स्टोर (Apple App Store) के साथ ही इस ऐप को डेस्कटॉप यूजर्स के लिए भी लॉन्च किया गया है। 

कंपनी इस ऐप पर पिछले काफी समय से काम कर रही थी। पहले जहां Jio Meet ऐप का बीटा वर्जन मई में रोल आउट किया गया था। अब इस ऐप के स्टेबल वर्जन को Android (एंड्रॉइड) और iOS (आईओएस) दोनों प्लेटफॉर्म्स के लिए रोल आउट कर दिया गया है।

Samsung The Serif और QLED 8K TV भारत में हुई लॉन्च, जानें कीमत

खासियत
Jiomeet की खासियत यह कि जियो मीट HD विडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप के जरिए एक साथ 100 लोगों से कनेक्ट हुआ जा सकता है। जियो मीट ऐप में मल्टी डिवाइस लॉगइन सपोर्ट दिया गया है। इसे अधिकतम 5 डिवाइसेज के साथ कनेक्ट किया जा सकता है। ऐप में कॉल के दौरान आप एक से दूसरे डिवाइस पर स्विच भी कर सकते हैं। वहीं इस एप को इस्तेमाल करने के लिए किसी तरह का कोई भी शुल्क नहीं लगेगा।

इसके अलावा इस ऐप को डेस्कटॉप के जरिए भी एक्सेस किया जा सकता है। इसके लिए यूजर को इन्वाइट लिंक पर क्लिक करना होगा। इन्वाइट लिंक पर क्लिक करने के बाद यूजर ग्रुप वीडियो कॉलिंग का हिस्सा बन सकते हैं।  साथ ही ये ऐप Windows Store (विंडोज स्टोर) पर भी उपलब्ध है। Windows 10 (विंडोज 10) ऑपरेटिंग सिस्टम पर रन करने वाले डिवाइसेज में भी इस ऐप को स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है।

PUBG और Zoom को भारत में आखिर क्यों नहीं किया गया बैन, ये है बड़ी वजह

रिलायंस जियो इन्फोकॉम के सीनियर वाइस प्रेजिडेंट पंकज पवार ने कहा, ‘जियो मीट कई खास सर्विस वाला प्लैटफॉर्म है। यह किसी भी डिवाइस और ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम कर सकता है। इसकी एक और खास बात है कि यह किसी आम विडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप की तरह कोलैबोरेशन को लिमिट नहीं करता।’

इनसे होगा मुकाबला
इस ऐप का सीधा मुकाबला जूम (Zoom), गूगल मीट (Google Meet), हैंगआउट (hangout), माइक्रोसॉफ्ट टीम (Microsoft Team), Skype (स्काइप) जैसे वीडियो कॉलिंग ऐप्स से होगा। 



Source link