National

Hathras gang rape case: CBI team records statement of victim’s sister-in-law | Hathras gang rape case : सीबीआई टीम ने पीड़िता की भाभी का बयान रिकॉर्ड किया, पांच घंटे तक चली पूछताछ 



डिजिटल डेस्क, हाथरस। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने शनिवार को पांच घंटे तक 19 वर्षीय दलीत पीड़िता के परिजनों के बयान को दर्ज किया। सीबीआई इससे पहले भी कथित सामूहिक दुष्कर्म और हत्या मामले में चल रही जांच के सिलसिले में पीड़िता के परिवार के सदस्यों से पूछताछ कर चुकी है। बता दें कि हाथरस के चंदपा कोतवाली इलाके के एक गांव में युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म और मौत के मामले में सीबीआई की जांच जारी है। सीबीआई की टीम लगातार लोगों से पूछताछ कर रही है, मामले से जुड़े अहम सबूत जुटा रही है।

सीबीआई अधिकारियों के अनुसार एजेंसी के सदस्यों ने शनिवार दोपहर को बुलगड़ी गांव में पीड़ित के परिवार के सदस्यों से मुलाकात की। एजेंसी की टीम कई घंटों तक पीड़िता के घर पर रही और उसकी भाभी का बयान दर्ज किया। एजेंसी सूत्र ने कहा कि पीड़िता की भाभी से पूछताछ की गई कि 14 सितंबर को कौन-कौन घर पर मौजूद थे, जिस दिन यह घटना हुई थी। उनसे पीड़िता की एक आरोपी के साथ कथित कॉल डिटेल्स के बारे में भी पूछताछ की गई।

शुक्रवार को सीबीआई के सामने गांव के युवक ने बयान दर्ज कराए
शुक्रवार को सीबीआई के कैंप कार्यालय पर पहुंचकर गांव के एक युवक ने अपने बयान दर्ज कराए। वह अपने भाई के साथ वहां पहुंचा था। वहीं, आज सीबीआई की टीम एक बार फिर से गांव पहुंची और बिटिया के घर पर गई। सीबीआई ने बिटिया के परिजनों से करीब पांच घंटे तक पूछताछ की और उसके बाद बिटिया के कपड़ों को भी वहां से ली गई है। इसके अलावा बिटिया का मेडिकल करने वाले चिकित्सक से भी पूछताछ की गई है।

शुक्रवार को जो युवक सीबीआई के कैंप कार्यालय पहुंचा था, उसने पहले खुद को घटना का चश्मदीद गवाह बताया। उसका कहना था कि यह घटना उसके खेत पर ही हुई है। जब घटना हुई तो उस समय पीड़िता की मां व भाई वहां मौजूद थे। सीबीआई की टीम अब तक दो बार बिटिया के गांव होकर आ चुकी है।

जिला अस्पताल में रिकॉर्ड खंगाल चुकी सीबीआई
जिला अस्पताल पहुंचकर भी रिकॉर्ड खंगाल चुकी है। कई अन्य लोगों से पूछताछ कर चुकी है। पुलिस से भी दस्तावेज हासिल कर चुकी है। अब सीबीआई अपने शिविर कार्यालय में इस केस से जुड़े लोगों को बुलाकर पूछताछ कर रही है। इस क्रम में सीबीआई ने गांव के ही एक युवक विक्रम उर्फ छोटू से पूछताछ की। सीबीआई ने यह केस रविवार को केंद्र की ओर से अधिसूचना जारी होने के बाद अपने हाथ में लिया था। इसके लिए अनुशंसा उत्तरप्रदेश सरकार ने की थी। मंगलवार को, सीबीआई की टीम ने बुलगड़ी गांव में छह घंटे से ज्यादा समय बिताया था और क्राइम सीन, पीड़िता को जलाए जाने वाली जगह और उसके घर का दौरा किया था।
 



Source link